इश्क़ का आशिक़

आपकी ज़ुल्फों से छनती,सुबह की उस एक किरण ने आपका दीवाना बना दिया;

आपके होठों पे फैली उस मुस्कुराहट ने ख्वाबों का एक नया जहाँ दिखा दिया;

हवाओं में फ़ैली आपकी ख़ुशबू ने हमारी रुह को यूँ छू लिया,

की एक आवारा बादल को आपकी इश्क़ का आशिक़ बना दिया।

#इंक्रेडिबलेपाई

#IncrediblePie

Facebook Page!

Instagram

Twitter

Google Plus

Advertisements

9 thoughts on “इश्क़ का आशिक़

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s